उद्योग/व्यापार

Tata Tech Listing: लिस्टिंग से ठीक पहले निवेशकों के लिए बुरी खबर! GMP लुढ़का, इस खबर का रहा असर?

Tata Technologies IPO Listing: टाटा टेक्नोलॉजीज के इनीशियल पब्लिक ऑफर (IPO) ने पिछले हफ्ते सबसे अधिक आवेदन के साथ नया रिकॉर्ड बनाया था। अब गुरुवार 30 नवंबर को इसके शेयरों की लिस्टिंग है। हालांकि लिस्टिंग से ठीक पहले कुछ खबरें इसके निवेशकों की चिंता बढ़ा सकती है। टाटा टेक्नोलॉजी की दूसरी सबसे बड़ी क्लाइंट, विनफास्ट (Vinfast) इन दिनों गंभीर मुसीबत है। पिछले 4 महीने में इसके शेयरों की कीमत करीब 90% घट गई है। इस खबर के बाद बुधवार को अनलिस्टेड मार्केट में टाटा टेट के शेयरों का ग्रे मार्केट प्रीमियम (GMP) घट गया।

अनलिस्टेड मार्केट पर नजर रखने वाले जानकारों के मुताबिक, टाटा टेक का ग्रे मार्केट प्रीमियम (GMP) बुधवार को घटकर 375 रुपये पर आ गया, जो एक दिन पहले 400 रुपये था। GMP में यह गिरावट ऐसे समय में है, जब गुरुवार 30 नवंबर को टाटा टेक के शेयरों की लिस्टिंग होनी हैं। अब देखना होगा कि इसका लिस्टिंग पर कितना असर होता है।

इससे पहले टाटा टेक ने बुधवार को अपने शेयरों का अलॉटमेंट फाइनल किया। सफल निवेशकों के डीमैट खाते में बुधवार देर शाम तक शेयर क्रेडिट हुए। वहीं असफल निवेशकों के पैसे गुरुवार को रिफंड हो जाएंगे।

यह भी पढ़ें- Charlie Munger: चार्ली मंगेर के 5 सबसे बड़े निवेश मंत्र, जिन्हें हर निवेशक को जरूर जानना चाहिए

बता दें कि विनफास्ट, वियतनाम की दिग्गज इलेक्ट्रिक व्हीकल कंपनी है। टाटा टेक के कुल रेवेन्यू में जगुआर लैंड रोवर (JLR) और टाटा मोटर्स के साथ विनफास्ट का सबसे अधिक योगदान है। यह तीनों टाटा टेक की 5 सबसे बड़ी क्लाइंट में शामिल हैं। टाटा टेक के कुल रेवेन्यू का करीब 57% और सर्विसेज रेवेन्यू का 71% इन्हीं 5 बड़ी क्लाइंट्स से आता है।

Tata Tech IPO को मिली रिकॉर्ड बोली

टाटा टेक का ₹3,042.51 करोड़ का आईपीओ सब्सक्रिप्शन के लिए 22-24 नवंबर के बीच खुला था। इसे 73.58 लाख आवेदन मिले जो अब तक का रिकॉर्ड है। पहले यह रिकॉर्ड एलआईसी के नाम था जिसके आईपीओ को पिछले साल मई 2022 में 73.38 लाख एप्लीकेशन मिले थे। अब टाटा टेक के आईपीओ के कैटेगरीवाइज सब्सक्रिप्शन की बात करें तो ओवरऑल यह आईपीओ 69.43 गुना सब्सक्राइब हुआ था।

Source link

Most Popular

To Top