बड़ी खबर

india tv fact check Chicken and liquor were not distributed during the recent assembly elections video is old । हाल में हुए चुनाव के दौरान नहीं बांटे गए मुर्गा और शराब, पुराना है वीडियो

fact check- India TV Hindi

Image Source : INDIA TV
मुर्गा और शराब बांटते हुए वीडियो का फैक्ट चेक

India TV Fact Check: देश के पांच राज्यों में हाल ही में विधानसभा चुनाव हुए हैं और इन सभी राज्यों को 3 दिसंबर को नतीजे घोषित किए जाएंगे। लेकिन इस बीच चुनाव के दौरान फैलाई गई दुष्प्रचार की सामग्री अभी भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। ऐसा ही एक वीडियो हमारे सामने आया जिसके साथ दावा किया जा रहा है कि हाल ही में हुए विधानसभा चुनावों में नेताओं ने जनता को शराब और मुर्गा बांटे हैं। इस वीडियो की जब हमने पड़ताल की तो पता चला कि ये साल 2022 का है, जब तत्कालीन तेलंगाना राष्ट्र समिति (अब BRS) के नेता ने लोगों को मुर्गा और शराब बांटा था।

क्या हो रहा वायरल?

दरअसल, फेसबुक और X पर कई सारे यूजर इस वीडियो को शेयर कर रहे हैं। X पर @krishna_F2 नाम के यूजर ने ये वीडियो 17 नवंबर 2023 को शेयर किया था। इसके साथ कैप्शन में लिखा है, 

“जनता को ये सुविधा मिले तो कौन पार्टी नहीं जीतेगा। #MadhyaPradeshElection2023 #Encounter  #फिर_इस_बार_भाजपा_सरकार  #अशोक_गहलोत_मेरे_घर “अशोक सिंघल”  #अशोक_गहलोत_मेरे_घर #RacingHeartsInChandigarh “छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव” #मेरा_वोट_कांग्रेस_को “Vote for Congress”

fact check

Image Source : SCREENSHOT

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा ये वीडियो

इसी वीडियो को एक फेसबुक यूजर Raju Pan  ने भी 20 नवंबर 2023 को शेयर किया और कैप्शन में लिखा, “है कोई…माई का लाल,, जो चुनाव में इस नेता को हरा दे,,पहले देखिये,, फिर सोचिये,, मोदी भी इस पवित्र नेता को हरा नहीं सकता” (कैप्शन को जस का तस लिखा गया है)

इंडिया टीवी ने किया फैक्ट चेक

जब हमने इस वीडियो को ध्यान से देखा तो पीछे की दुकानों पर लगे बोर्ड पर ध्यान गया। इन दुकानों पर लगे बोर्ड पर तेलुगु में लिखा हुआ था। इससे ये तो साफ हो गया था कि ये वीडियो छत्तीसगढ़, राजस्थान या फिर मध्य प्रदेश का नहीं हो सकता। इसके बाद हमने इससे संबंधित कीवर्ड की मदद से गूगल पर सर्च करना शुरू किया। गूगल सर्च में हमें कुछ खबरें और कुछ वीडियो मिले।

fact check

Image Source : SCREENSHOT

इंडिया टीवी की वेबसाइट पर मिली खबर से सामने आई सच्चाई

इस दौरान हमें इंडिया टीवी की वेबसाइट की ही एक खबर मिली जो 16 दिसंबर 2022 को प्रकाशित की गई थी। इस खबर की हैडलाइन में लिखा है- “नेता जी ने लगवाई लाइन और फिर दिया दारू की बोतल के साथ जिंदा मुर्गा” इस खबर में नीचे लिखा है, “तेलंगाना में फिलहाल चुनाव नहीं हो रहे हैं, बल्कि नेता जी ने ये कारनामा सीएम केसीआर के राष्ट्रीय पार्टी लॉन्च करने की खुशी में की है। ये कारनामा किया है टीआरएस नेता राजनाला श्रीहरि ने। उन्होंने 200 जिंदा मुर्गे और 200 दारू की बोतल हम्मालों में बांटी है।”

इतना ही नहीं इस खबर में हमें इसका एक साल पुराना वीडियो भी मिला। न्यूज एजेंसी ANI के इस वीडियो में साफ तौर पर तत्कालीन टीआरएस (अब बीआरएस) के नेता राजनाला श्रीहरि अपने हाथो से लोगों को शराब की बोतल और जिंदा मुर्गा बांट रहे हैं। ANI ने इस वीडियो को 4 अक्टूबर 2022 को शेयर किया था। इसके कैप्शन में लिखा है, “तेलंगाना के मुख्यमंत्री केसी राव द्वारा कल वारंगल में एक राष्ट्रीय पार्टी का शुभारंभ करने से पहले टीआरएस नेता राजनाला श्रीहरि ने स्थानीय लोगों को शराब की बोतलें और चिकन वितरित किया।”

फैक्ट चेक में क्या निकला

इंडिया टीवी की पड़ताल में साफ हुआ कि ये वायरल वीडियो हाल के चुनाव का नहीं, बल्कि एक साल पुराना है। तेलंगाना में टीआरएस के एक नेता ने राष्ट्रीय पार्टी बीआरएस के शुभारंभ की खुशी में लोगों को मुर्गा और शराब बांटी थी।

ये भी पढ़ें-

Fact Check: कांग्रेस की रैली में नहीं लहराया गया पाकिस्तान का झंडा, फर्जी निकला दावा

Fact Check: वर्ल्ड कप फाइनल के दौरान स्टेडियम में नहीं हुआ हनुमान चालीसा का पाठ, एडिटेड है वीडियो

 

Source link

Most Popular

To Top