बड़ी खबर

consecutive defeats in 2 states Nikki Haley challenging Trump for President/2 राज्यों में लगातार हार के बावजूद राष्ट्रपति पद के लिए ट्रंप को चुनौती दे रही हैं निक्की हेली, अब हारीं तो क्या होगा?

अमेरिका के पूर्व प्रेसिडेंट डोनॉल्ड ट्रंप और राष्ट्रपति पद की दौर में शामिल निक्की हेली।- India TV Hindi

Image Source : AP
अमेरिका के पूर्व प्रेसिडेंट डोनॉल्ड ट्रंप और राष्ट्रपति पद की दौर में शामिल निक्की हेली।

(अमेरिका)। अमेरिका में नवंबर 2024 में राष्ट्रपति चुनाव होना है। ऐसे में रिपब्लिकन पार्टी की तरफ से जो बाइडेन को चुनौती कौन देगा इसे लेकर आंतरिक प्रांतीय चुनाव शुरू हो गए हैं। रिपब्लिकन पार्टी की ओर से पूर्व राष्ट्रपति डोनॉल्ड ट्रंप का निक्की हेली से मुकाबला चल रहा है। शुरुआती मुकाबले में निक्की हेली ट्रंप से 2 राज्यों में लगातार हार का सामना कर चुकी हैं। इससे उन्हें झटका जरूर लगा है, लेकिन उन्होंने अभी हौसला नहीं तोड़ा है। मगर यदि उन्हें और भी राज्यों में हार का इसी तरह सामना करना पड़ा तो निक्की हेली की राह मुश्किल हो सकती है। 

 

बता दें कि आयोवा और न्यू हैम्पशायर दोनों जगह डोनाल्ड ट्रंप से हारने के बावजूद निक्की हेली अब भी पूरे जोश से डटी हुई हैं और उन्होंने 2024 के चुनाव में रिपब्लिकन पार्टी की ओर से राष्ट्रपति पद की उम्मीदवारी की दौड़ में ट्रंप को कड़ी टक्कर देने का संकल्प जताया है। आगामी राज्यों में मतदान की राह आसान नहीं होने वाली। हेली ने बुधवार रात साउथ कैरोलाइना के नॉर्थ चार्ल्सटन में सैकड़ों प्रशंसकों की मौजूदगी में एक रैली में कहा, ‘‘हम बहुत रोमांचित थे।’’’ उन्होंने न्यू हैम्पशायर में दूसरे स्थान पर रहने को अपनी जीत के रूप में दर्शाया क्योंकि उनके अभियान को शुरुआती दिनों में बहुत कम समर्थन मिला था।

 

हेली ने कहा-ट्रंप ने किया मेरा अपमान

हेली ने ट्रंप की टिप्पणी का हवाला देते हुए कहा, ‘‘हम वहां पहुंचे और हमने अपना काम किया और हमें जो कहना था, हमने कहा। फिर, डोनाल्ड ट्रंप वहां पहुंचे और गुस्सा दिखाया। हेली ने कहा कि आयोवा की जीत के बाद उनके भाषण में कहीं ज्यादा गुस्सा था और अपनी टिप्पणियों में उन्होंने मेरा अपमान किया। हेली ने मंगलवार को न्यू हैम्पशायर प्राइमरी में आयोवा कॉकस में एक सप्ताह पहले के प्रदर्शन की तुलना में बेहतर प्रदर्शन किया, जहां वह तीसरे स्थान पर रही थीं। हालांकि वह पूर्व राष्ट्रपति ट्रंप से काफी पीछे और फ्लोरिडा के गवर्नर रॉन डिसेंटिस से थोड़ी ही पीछे रहीं। डिसेंटिस ने तब से अपना अभियान बंद कर दिया है और राष्ट्रपति पद की उम्मीदवारी से अपना नाम वापस ले लिया है।  (एपी) 

यह भी पढ़ें

Latest World News

Source link

Most Popular

To Top