बिहार

Bihar:बीपीएससी परीक्षार्थियों के लिए अच्छी खबर, किए गए हैं कई सुधार – Bihar: Good News For Bpsc Candidates, Many Reforms Have Been Done

Share If you like it

Bihar: बीपीएससी परीक्षार्थियों के लिए अच्छी खबर, किए गए हैं कई सुधार

Bihar: बीपीएससी परीक्षार्थियों के लिए अच्छी खबर, किए गए हैं कई सुधार
– फोटो : AMAR UJALA DIGITAL

विस्तार

परीक्षार्थियों के लिए एक अच्छी खबर है। खबर यह है कि इस परीक्षा के प्रश्न पत्र के लिक होने की संभावना अब बहुत हद तक कम हो जाएगी। दरअसल 68वीं बीपीएससी की प्रारंभिक परीक्षा 12 फरवरी को होनी है। इसके लिए कई सुधार किए गए हैं। इस बार की परीक्षा पहली बार नेगिटिव मार्किंग के साथ होगी। 38 जिलों में होने वाले इस परीक्षा के लिए कुल 805 परीक्षा केन्द्र बनाए जाएंगे। इस परीक्षा में कुल 434661 अभ्यर्थी शामिल होंगे जिसमें महिला अभ्यर्थियों की संख्या करीब डेढ़ लाख है जबकि दिव्यांग अभ्यर्थियों की संख्या लगभग 7 हजार। इस बार पदों की संख्या भी मात्र 324 है। अच्छी बात यह भी है कि इस परीक्षा में पहली बार  दिव्यांग परीक्षार्थियों की परीक्षा होम सेंटर में ली जाएगी। साथ ही परीक्षा केन्द्र पर एक जगह बैठाकर उनकी परीक्षा ली जाएगी। उक्त बात की जानकारी बीपीएससी के सचिव और परीक्षा नियंत्रण रविभूषण ने दी। 

कैसे और कब दिए जाएंगे प्रश्नपत्र 

प्रश्न पत्र लिक नहीं होने की वजह बताते हुए  रविभूषण ने बताया कि परीक्षा शुरू होने से आधे घंटे पूर्व यानी ठीक साढ़े 11 बजे पूर्वाह्न में दो वरीय वीक्षकों और जिला दंडाधिकारी के द्वारा प्रतिनियुक्त स्टैटिक दंडाधिकारी सह प्रेक्षक की उपस्थिति में केंद्र अधीक्षक क्वेश्चन बुकलेट की सील्ड स्टील बॉक्स को परीक्षा केन्द्र के एक कक्ष में रखकर उन अभ्यर्थियों के सामने ही खोला जाएगा जिसकी पूरी वीडियोग्राफी भी कराई जाएगी। उन्होंने कहा कि सुरक्षा की दृष्टिकोण से अब यह सुनिश्चित किया गया है कि प्रश्न पुस्तिका की टीईएस बैग किसी भी परिस्थिति में केन्द्र अधीक्षक नहीं खोलेंगे। यह परीक्षा कक्ष में परीक्षार्थियों के सामने 11.50 बजे  खोला जाएगा। इसके बाद 11.30 बजे से प्रश्न पुस्तिका का वितरण कर 12.00 बजे परीक्षा शुरू करने की घंटी बजाई जाएगी।

अभ्यर्थियों को परीक्षा केंद्र पर कब और कब तक है आना  

परीक्षा केंद्र के अंदर परीक्षार्थियों के प्रवेश करने का समय 9.30 बजे सुबह से शुरू हो जाएगा और परीक्षा शुरु होने के एक घंटा पूर्व प्रवेश बंद कर दिए जाएंगे।

 दिव्यांग अभ्यर्थियों का सेंटर भी महिलाओं की तरह होम सेंटर होगा। ऐसे अभ्यर्थियों के लिए परीक्षा केन्द्रों पर स्क्राइब की भी व्यवस्था उपलब्ध होगी। स्क्राइब इंटर स्तर का होगा। सभी दिव्यांग अभ्यर्थियों को 40 मिनट का अतिरिक्त समय दिया जाएगा।

ऐसे किए जाएंगे मार्किंग 

पीटी में निगेटिव मार्किंग किए जाएंगे। यानी चार प्रश्नों के उत्तर गलत देने पर एक नंबर कट जाएंगे। उन्होंने यह भी बताया कि यह परीक्षा भी E-ऑप्शन के साथ ही होगी।

इससे बचना होगा 

बीपीएससी के सचिव और परीक्षा नियंत्रण रविभूषण ने बताया कि किसी तरह के अवांक्षित गजट आदि लाने वालों को 5 साल के लिए डिबार किया जाएगा। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि परीक्षा संबंधित किसी भी तरह के रियूमर फैलाने वाले अभ्यर्थियों को तीन साल के लिए और कदाचार में संलिप्त पाए जाने वाले अभ्यर्थियों को पांच साल के लिए परीक्षा से डिबार किया जाएगा। इसकी सूचना बाकी सभी पीसीएस सहित यूपीएससी को भी बिहार लोक सेवा आयोग देगा।

Source link

Most Popular

To Top

Subscribe us for more latest News

%d bloggers like this: