विश्व

10वाँ अन्तरराष्ट्रीय योग दिवस, मस्तिष्क, मानवता व प्रकृति के बीच एकता की डोर

योग शरीर और मस्तिष्क, मानवता और प्रकृति, और दुनिया भर में मौजूद करोड़ों लोगों को, एकता के धागे में पिरोता है. 

योग एक ऐसी शारीरिक, मानसिक और आध्यात्मिक व्यायाम प्रक्रिया है जो भारत में शुरू हुई थी और अब दुनिया भर में विभिन्न रूपों में लोकप्रिय व प्रचलित है.

संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 11 दिसम्बर 2014 को, एक प्रस्ताव पारित करके, हर वर्ष 21 जून को अन्तरराष्ट्रीय योग दिवस मनाए जाने की घोषणा की थी.

Source link

Most Popular

To Top