सरकारी अधिसूचना

डॉ. जितेंद्र सिंह ने कहा है कि विज्ञान और प्रौद्योगिकी के प्रभारी मंत्री रूप में, उन्हें इस तथ्य पर गर्व था कि इस मंत्रालय के अंतर्गत जैव प्रौद्योगिकी विभाग (डीबीटी) और इसके लोक उपक्रम , जैव प्रौद्योगिकी उद्योग अनुसंधान सहायता परिषद (बाईरैक–बीआईआरएसी) ने भारत बायोटेक इंटरनेशनल लिमिटेड (बीबीआईएल) के माध्यम से कोविड महामारी के लिए विश्व का पहला विकसित इंट्रानेजल वैक्सीन करने में प्रमुख योगदान दिया था

Share If you like it

डॉ. जितेंद्र सिंह ने कहा है कि विज्ञान और प्रौद्योगिकी के प्रभारी मंत्री रूप में, उन्हें इस तथ्य पर गर्व था कि इस मंत्रालय के अंतर्गत जैव प्रौद्योगिकी विभाग (डीबीटी) और इसके लोक उपक्रम , जैव प्रौद्योगिकी उद्योग अनुसंधान सहायता परिषद (बाईरैक–बीआईआरएसी) ने भारत बायोटेक इंटरनेशनल लिमिटेड (बीबीआईएल) के माध्यम से कोविड महामारी के लिए विश्व का पहला विकसित इंट्रानेजल वैक्सीन करने में प्रमुख योगदान दिया था

Source link

Most Popular

To Top

Subscribe us for more latest News

%d bloggers like this: