राजनीति

आजाद भारत की ये 5 बड़ी उपलब्धियों ने दुनिया में बजाया डंका-five big achievements of independent India

Share If you like it

75 years of independence- India TV Hindi News
Image Source : INDIA TV
75 years of independence

Highlights

  • पूरी दुनिया में 9वीं ही देश है, जिनके पास परमाणु बम है
  • 19 अप्रैल 1975 को आर्यभट्ट उपग्रह को छोड़ा था
  • आजादी के कुछ साल बाद ही 1962 में चीन से युद्ध और 1965 में पाकिस्तान से युद्ध हुआ

75 years of independence: आजादी के 75 साल जल्द ही पूरे होने वाले हैं। इसी मौके पर देश 75वां अमृत महोत्सव मना रहा है। जब हमारा देश आजाद हुआ था, तब हर मामले में हमारा देश पिछड़ा था। अंग्रेजों ने जितना भारत को आधुनिक बनाया था, उससे कई गुना भारत को लूट लिया था। सोने की चिड़िया कह जाने वाली देश को अंग्रेजों ने गरीबी, भुखमरी और कंगाली में झोंक दिया। देश की आर्थिक हालात पूरी तरह से खराब हो चुकी थी। इन 75 सालों में देश हमारा तेजी से बदला और कुछ ऐसी उपलब्धियां है जिन्हें जानकर हमें गर्व होता है। आज इन्हीं उपलब्धियों के बारे में आपको हम बताएंगे।

1. आजाद भारत की सबसे बड़ी उपलब्धि हरित क्रांति थी। आजादी के कुछ साल बाद ही 1962 में चीन से युद्ध और 1965 में पाकिस्तान से युद्ध हुआ। दोनों युद्ध से भारत की स्थिति चरमरा गई थी। देश में खाने के लिए अनाज की भारी किल्लत हो गई थी। तभी तत्कालीन प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री ने लोगों से अपील किया कि 1 दिन उपवास रखें ताकि देश के सैनिकों को दोनों टाइम का भोजन मिल सके। वहीं प्रधानमंत्री ने हरित क्रांति पर काफी जोर दिया। हरित क्रांति के बाद भारत के किसानों में एक नई ऊर्जा पैदा हो गई। इस क्रांति के बाद देश में कभी भी अनाज की किल्लत नहीं हुई। वर्तमान में भारत कई देशों को अनाज एक्सपोर्ट करता हैं।

2. जब हम भुखमरी, कंगाली से जूझ रहे थे तभी अमेरिका और रूस जैसे देश अंतरिक्ष में अपने कदम जमा रहे थे। हम उस समय कल्पना भी नहीं कर सकते थे कि 1 दिन हम चांद पर पानी खोज निकालेंगे और मंगल ग्रह तक अपनी पहुंच बनाएंगे। हमने सबसे कम बजट में मंगल ग्रह पर अपनी जगह बनाई। यह देख कर दुनिया के बड़े-बड़े रक्षा बजट वाले अंतरिक्ष एजेंसी चौक गए थे। हमने पहली बार 19 अप्रैल 1975 को आर्यभट्ट उपग्रह को छोड़ा था। आज हमारा देश अन्य देशों के लिए भी सैटेलाइट छोड़ता है।

3. 1962 में चीन से युद्ध के बाद महसूस हुआ कि आंतरिक सुरक्षा को मजबूत करने की जरूरत है। हमने वह काम करके दिखाया जिससे पूरी दुनिया चौक गई। परमाणु बम और रक्षा में अपनी ताकत को मजबूत किया। अमेरिका के नाक के नीचे हमने पोखरण में परमाणु बम का प्रशिक्षण किया। 11 मई 1998 को हमने पोखरण में 3 परमाणु बमों का प्रशिक्षण किया था। आज हम परमाणु देश के श्रेणी में आते हैं। पूरी दुनिया में 9वीं ही देश है, जिनके पास परमाणु बम है।

4. भारत के आजाद होने के साथ-साथ हमें उपहार में ऐसी कई बीमारियां मिली, जिनसे निपटना एक चुनौती भरा काम था। पोलियो और चेचक ऐसी बीमारियां थी। भारत की एक बड़ी आबादी इससे प्रभावित थी। आज हमने पोलियो पर फतह हासिल कर ली है। भारत से पूरी तरह से पोलियो को खत्म कर दिया गया।

5. 15 अगस्त 1947 में टेक्नोलॉजी जैसे शब्दों के बारे में जानते भी नहीं थे। आज आईटी के मामले में पूरी दुनिया में मशहूर है। बेंगलुरु और गुरुग्राम जैसे शहरों को देखकर लगता है कि एक भारत का हिस्सा नहीं हो सकता लेकिन यह हकीकत है। आज दुनिया में जितने भी सॉफ्टवेयर काम कर रहे हैं, उनमें कई सॉफ्टवेयर में भारतीयों का योगदान रहा है। आज दुनिया की बड़ी-बड़ी कंपनियां भारत में अपना बाजार कायम कर रही हैं।

Latest India News

Source link

Most Popular

To Top

Subscribe us for more latest News

%d bloggers like this: